Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, 7 April 2022

अब 2024 का चुनाव मेरा लक्ष्य : गुलाब यादव

अब 2024 का चुनाव मेरा लक्ष्य : गुलाब यादव



रिपोर्ट : उदय कुमार झा

मधुबनी : गुरुवार का दिन अम्बिका गुलाब यादव के लिए बेहद शुभ हुआ । स्थानीय प्राधिकार से मधुबनी की पहली महिला विधान पार्षद बनने का सौभाग्य अम्बिका गुलाब यादव को मिला । एनडीए के बड़े-बड़े मंत्री, नेता सब मधुबनी में अपने प्रत्याशी के पक्ष में उतरे । राजद प्रत्याशी मेराज़ आलम के पक्ष में स्वयं तेजस्वी यादव मधुबनी पहुँचे । लेकिन सभी का प्रयास निष्फल रहा और राजद से निष्कासित पूर्व विधायक गुलाब यादव की पत्नी अम्बिका गुलाब यादव ने एमएलसी के चुनाव में जीत दर्ज की । अम्बिका गुलाब यादव की जीत में चाणक्य की भूमिका मधुबनी ज़िला परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष भारत भूषण ने बखूबी निभाई और चुनाव के बेहतर प्रबंधन, सौम्य व्यवहार एवं कड़ी मेहनत के बल पर उन्होंने अम्बिका गुलाब को शानदार जीत दर्ज करवाने में अपनी महती भूमिका निभाई । जीत के अवसर पर मीडिया को संबोधित करते हुए गुलाब यादव ने तेजस्वी यादव को आगाह करते हुए कहा कि 10 नम्बर बंगले को दलालों से चेत जाना चाहिए । विधान परिषद की जीत के बाद हमारा लक्ष्य 2024 ई.का चुनाव है । अगर यहाँ की जनता बोलेगी तो हम उस चुनाव में उतरेंगे और जनता का आशीर्वाद मिलेगा । गुलाब यादव के भाई और बड़े व्यवसायी रामबाबू यादव ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यह जीत जनप्रतिनिधियों की जीत है । मैं तो पुणे से यहाँ आता हूँ और जीत देखकर जाता हूँ । बिंदु गुलाब इस खुशी के मौके पर बोली कि लोग हमारी कमजोरी खोज रहे हैं लेकिन मेरी कोई कमजोरी नहीं है और मैं चक्रव्यूह में नहीं फ़ंसूंगी । दलगत राजनीति से ऊपर उठकर चुनाव लड़ना लक्ष्य था जो पूरा हुआ । पिछले तीन महीनों से हमारी मेहनत का ही नतीजा है कि हमलोग सफल हो पाए ।
         इस चुनावी जीत का गवाह बनने हज़ारों की भीड़ आर.के.कॉलेज के गेट के बाहर खड़ी थी और अपनी नेत्री अम्बिका गुलाब यादव का स्वागत करने खड़ी थी ।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम