Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Friday, 13 May 2022

भारतीय मानक ब्यूरो ने नालंदा के एक ज्वेलर्स को हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुये पाया

 भारतीय मानक ब्यूरो ने नालंदा के एक ज्वेलर्स को हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुये पाया 

                                                                      

पटना,12 मई 2022  



भारतीय मानक ब्यूरो के पटना शाखा कार्यालय ने छापेमारी कर नालंदा के राजगीर स्थित मॉं मातेश्वरी फैन्सी  ज्वे्लर्स (बिपिन ज्वेलर्स) को हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुये पाया है। स्वर्ण आभूषण बिक्रेता भारतीय मानक ब्यूरो से बिना लाइसेंस प्राप्त  किए अवैध रूप से हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुये ग्राहक को गुमराह कर रहा था। 



भारतीय मानक ब्यूरो वैज्ञानिक ‘ई’ एवं प्रमुख के                                                         एस.के.गुप्ता  ने बताया कि हॉलमार्क दुरुपयोग की शिकायत मिली थी। इस  आधार पर एक विशेष छापेमारी दस्ता  का गठन किया गया एवं तलाशी एवं जब्ती  अभियान को भेजा गया। छापेमारी के दौरान मॉं मातेश्वकरी फैन्सी   ज्वेलर्स (बिपिन ज्वेलर्स), द्वारा हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुए पाया गया। छापेमारी के दौरान फर्म से नकली हॉलमार्क लगे आभूषण नमूना के तौर पर जब्त( एवं सील  कर दुकानदार के पास सुरक्षा में रखा गया तथा एक आभूषण को जब्त एवं सील कर गवाही के लिए टीम अपने साथ ले गई। 


भारतीय मानक ब्यूरो एक्ट  2016 के नियमों के तहत खंड 15 का उल्लंघन पाए जाने पर तथा इसकी कोर्ट की सत्या्पन होने के बाद जुर्माना कम से कम रु. एक लाख का या अगले उल्लंघनों पर कम से कम 05 लाख जो उत्पाद के वास्तविक मूल्य का 05 गुणा तक या उत्पादनकर्ता को एक वर्ष तक की सजा दी जा सकती है। 


भारतीय मानक ब्यूरो उत्पाद की गुणवत्ता बनाए रखने में इस तरह का अभियान गुप्त सूचना के आधार पर, अपने सौजन्य से एवं अन्य आधार पर करती रहती है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम