Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Wednesday, 11 May 2022

टीबी उन्मूलन को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों ने चलाया अभियान

 टीबी उन्मूलन को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों ने चलाया अभियान


•गृह भ्रमण कर 65 लोगों की  स्क्रीनिंग

•3 माह में कोईलख को टीबी मुक्त करने का लिया संकल्प



मधुबनी,10 मई ।

जिले को टीबी मुक्त बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा  लगातार पहल की जा रही तथा नई-नई तकनीकों को जोड़ा जा रहा है। साथ ही सामुदायिक  स्तर पर विशेष पहल कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। विदित हो की भारत सरकार द्वारा भारत को 2025 तक टीबी मुक्त करने का संकल्प लिया गया है। जिस संकल्प को पूरा करने हेतु बिहार के मधुबनी जिला का पहला पंचायत कोईलख जिसे स्वास्थ्य विभाग राजनगर मधुबनी की ओर से तीन महीने के भीतर टीबी मुक्त करने का संकल्प लिया गया है। जिसकी स्वास्थ्य कर्मियों के द्वारा लगातार मुहिम शुरू कर दी गई है। इसी मुहिम के तहत मंगलवार को अलीचक वार्ड नंबर 1 कोईलख में हॉउस टू हॉउस जाकर टीबी स्क्रीनिंग व शुगर जाँच की गई। अलीचक के 65 घरों में माइक्रो स्क्रीनिंग का काम पूरा कर लिया गया। जिसमें 5 संदिग्धों का सैंपल  लिया गया। साथ ही 55 लोगों की शुगर की भी जाँच की गई।


जन-जन तक टीबी उन्मूलन का संदेश पहुँचना आवश्यक-

सिविल सर्जन डा. सुनील कुमार झा ने बताया सरकार 2025 तक टीबी उन्मूलन के लिए कटिबद्ध है। इसके लिए जनमानस में व्यापक तौर पर इस रोग के प्रति जागरूकता फैलाने की जरूरत है। लक्षण नजर आने के बावजूद अधिकांश लोग यह मानने को तैयार ही नहीं होते हैं कि उनको टीबी हो सकती है। ऐसे में उनकी भूमिका काफी अहम हो जाती जो टीबी से ग्रसित होने के बाद पूर्णतः ठीक हो चुके हैं। टीबी से अपनी लड़ाई के बारे में लोगों को बताकर वे टीबी चैंपियंस की भूमिका निभा सकते हैं। टीबी पर प्रभावी नियंत्रण हो पाये इसके लिए बहुत जरूरी है कि लोग इस रोग के बारे में पूरी तरह से जानें एवं इससे बचने के लिए आवश्यक स्वास्थ्य सुविधायें जो सरकार द्वारा मुफ्त में प्रदान की जाती ,का लाभ उठायें। समेकित रूप से लोगों को टीबी के बारे में जानकारी मिल सके इसके लिए जिले में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। बताया टीबी पूरी तरह से ठीक होने वाली बीमारी है। टीबी रोगियों को सरकार द्वारा निःशुल्क दवा दी जाती है। जिले के स्वास्थ्य संस्थानों पर टीबी जांच की समुचित व्यवस्था है। लोगों को इसका लाभ लेना चाहिए। जन-जन तक टीबी मुक्ति के लिए चलाये जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन से लोगों तक इसके बारे में जानकारी पहुँचेगी। लोग इसके समाधान के बारे में समझ पायेंगे तभी देश सहित प्रदेश भी टीबी मुक्त हो सकेगा।

 मौके पर  मो इस्मतुल्लाह गुलाब, केयर इंडिया के डीटीएल  महेंद्र सिंह सोलंकी, राजनगर एमओआईसी  डा निरंजन जैस्वाल, डा डी के राय, स्थानीय मुखिया शेखर सुमन एवं आशा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम