Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Friday, 3 June 2022

जिला वासी हो रहे आयुष्मान, मई में 648 लाभार्थियों ने उठाया लाभ

 जिला वासी हो रहे आयुष्मान, मई में 648 लाभार्थियों ने उठाया लाभ



•योजना के तहत सरकार ने मई माह में व्यय किए 95 लाख

•आज से जिले के सभी पंचायतों में किया जाएगा प्रचार - प्रसार 

•जिले में 23 लाख 70 हजार 685 लोगों का बनना है कार्ड 


मधुबनी, 3 जून

भारत सरकार की महत्वकांक्षी परियोजना आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना जिले के लाभार्थियों के लिए वरदान साबित हो रहा है. योजना के लाभार्थी ना केवल सरकारी अस्पताल वरन बड़े-बड़े प्राइवेट अस्पतालों में भी अपने इलाज करवा रहे हैं.आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना  के जिले के लाभार्थियों का कैंसर और हृदय रोग जैसी गंभीर बीमारियों के लिए आवश्यक उपचार किया गया।आयुष्मान योजना के लाभार्थियों ने एम्स नई दिल्ली, पीजीआईएमईआर चंडीगढ़, राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल, पारस ग्लोबल हॉस्पिटल दरभंगा, श्री कृष्णा हॉस्पिटल रायपुर, पंचम हॉस्पिटल लुधियाना, आई क्यू विजन प्राइवेट लिमिटेड गुड़गांव, श्री सत्य साईं हार्ट हॉस्पिटल अहमदाबाद जैसे बड़े अस्पतालों में अपना इलाज करवाया. आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत पात्र लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड बनाने में गति प्रदान करने के लिए आज से जिले के सभी 21 प्रखंड के सभी पंचायतों में प्रचार-प्रसार, बैनर, पोस्टर से अब तक वंचित   पात्र लाभार्थी को कार्ड व उपचार के लिए जागरूक किया जाएगा. जिलाधिकारी ने निर्देश दिया की सभी स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक/ उपाधीक्षक, एमओआईसी, प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी से समन्वय स्थापित कर लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड बनाने में सहयोग करेंगे. सरकारी अस्पताल में आने वाले आयुष्मान भारत के लाभार्थियों को पहचान सुनिश्चित कर इलाज प्रारंभ करें तथा योजना का लाभ दिलाने में मदद करें। पंचायत प्रतिनिधि, जीविका के प्रतिनिधि, वीएलई( विलेज लेवल एंटरप्रेन्योर) पंचायत स्तर पर बैठक कर लोगों को आयुष्मान योजना के बारे में तथा संबंधित सूची के बारे में अवगत कराएंगे। ताकि आयुष्मान कार्ड बनाने में लाभार्थी से किसी प्रकार का परेशानी नहीं हो कार्ड बनवाने के लिए का कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। जिले में 23 लाख 70 हजार 685 लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड बनाया जाना है। अब तक 2,56,632 लाभार्थी कार्ड बनाया गया है। शेष लाभार्थियों का कार्ड बनाया जाना है। 


मई में 648 लोगों ने उठाया लाभ:


डीपीसी कुमार प्रियरंजन ने बताया मई 2022 में जिले के 648 लोगों ने आयुष्मान जन प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत देश के विभिन्न अस्पताल बड़े अस्पतालों में अपना इलाज करवाया जिसके लिए सरकार ने 95 लाखों रुपए खर्च किए वहीं जिले में अब तक 14294 मरीजों का योजना के तहत लाभ मिला है जिसमें 9675 लोगों का जिले के सूचीबद्ध अस्पतालों में इलाज किया गया जिसके लिए 16 करोड़ का व्यय किया गया है . उन्होंने बताया जिले में 2022- 23 वित्तीय वर्ष में अब तक राज्य में जिले का कार्ड बनाने में पांचवा स्थान, परिवार कवरेज में चौथा स्थान, इलाज में छठा स्थान तथा बीओसीडब्ल्यू के कार्ड बनाने में नौवां स्थान है.


पात्र लाभार्थियों का बनता है गोल्डन कार्ड:

केंद्र सरकार ने सितंबर 2018 को गरीबी से परेशान लोगों के नि:शुल्क उपचार के लिए आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की थी। इसमें सोशल इकनॉमिक कॉस्ट सेंसेज 2011 (सेक डेटा) के तहत गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों को लाभ दिलाने के लिए पात्र माना गया था। बीओसीडब्ल्यू के पंजीकृत मजदूरों का भी आयुष्मान कार्ड बनाया जाना है। इसी के तहत लोगों को लाभ दिलाया जा रहा है।जिले में आयुष्मान भारत योजना के तहत सभी सरकारी अस्पताल सहित 5 प्राइवेट अस्पताल पंजीकृत हैं।  इसमें लाभार्थी को लाभ लेने व गोल्डेन कार्ड बनवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

जिलांतर्गत , 

•मधुबनी मेडिकल कॉलेज

•क्रिब्स हॉस्पिटल

•हरसन हॉस्पिटल

•मां उग्रतारा नेत्रालय 

•आस्था सर्जिकल अस्पताल 

सूचीबद्ध हैं एवं सभी सरकारी अस्पतालों में भी योजना का लाभ। दिया जा रहा है। साथ ही योग्य निजी अस्पतालों को सूचीबद्ध करने की प्रक्रिया भी की जा रही है।


पात्र लाभार्थी को इस योजना के तहत 5 लाख रुपए तक प्रति वर्ष मुफ्त इलाज:

प्रियरंजन ने बताया यह केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। इसे सफल बनाने में सभी की सहभागिता अनिवार्य है। पात्र लाभार्थी को इस योजना के तहत 5 लाख रुपए तक प्रति वर्ष मुफ्त इलाज के लिए सरकार द्वारा सूचीबद्ध अस्पतालों में सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। साथ ही उन्होंने जिले के योग्य अस्पतालों से आग्रह किया है कि इस योजना से जुड़े तथा गरीब तबके के लोगों को इस योजना का लाभ दिलाएं।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम