Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, 1 September 2022

शिक्षकों ने मनाया काला दिवस

 बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के आह्वान पर शिक्षको ने पुराने पेंशन सहित विभिन्न मांगो के समर्थन मे मनाया काला दिवस 


*बिस्फी से चन्दन कुमार की रिपोर्ट*


 मधुबनी जिले के नियोजित प्राथमिक एवम माध्यमिक विद्यालय के शिक्षकों ने अपने मांगो के समर्थन मे सरकार के बिरुध्द काला पट्टी बांध कर सेवा स्थल पर सेवा देते हुए काला दिवस मनाया। बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के आह्वान पर प्रारंभिक एवम माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक संघ के सदस्यों ने विद्यालय से लेकर चहक प्रशिक्षण केन्द्रो पर सेवा प्रारंभ रखते हुए सरकार के लिए संकेतीक तौर पर अपने तरफ से अंदोलन को जारी रखा। वही अंदोलन कर रहे शिक्षको ने पुराने पेंशन को लागू करने सहित अन्य मांगो के समर्थन मे शिक्षक संघ के आह्वान पर राज्य व्यापी अंदोलन को देखते हुए आज के दिन को काला दिवस के रूप मे मनाया और अपने विभिन्न मांगो के समर्थन मे एक जूटता का परिचय देते हुए सरकार से बिना देर किए शिक्षक हीत मे निर्णय लेने की मांग की है। वही  आज मधुबनी जिले के बिस्फी प्रखंड क्षेत्र के उच्च माध्यमिक विद्यालय औसी बाभनगवां उत्तरी स्कूल के शिक्षको एवं शिक्षिका ने काला पट्टी बांधकर सरकार के खिलाफ काला दिवस मनाया।  बिहार प्रारंभिक शिक्षक संघ के  जिला उपाध्यक्ष मोहम्मद नूर आलम ने बताया की जो पुराना पेंशन पहले था मुझे वही पुराना पेंशन चाहिए नया पेंशन हम सब को मंजूर नही। राज्य कर्मी का दर्जा हम नियोजित शिक्षक को दिया जाय। उन्होंने आगे बताया है कि जो हमारे प्रशिक्षित शिक्षक का वेतन रोका गया है उससे संबंधित कोर्ट का आर्डर आ गया है। उन रुके हुए वेतन का भुगतान यथाशीघ्र किए जाने की मांग करते हुए उन्होने सरकार के शिक्षक विरोधी रबैए पर नाराजगी भरे लहजे मे संघ के द्वारा उठाए गए मांग पर गंभीरता से बिचार करने का आग्रह किये।


No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot
शाहनवाज हुसैन को सुप्रीम कोर्ट से राहत, FIR दर्ज करने के आदेश पर लग गयी रोक। बिहार में जूनियर डॉक्टर्स हड़ताल पर, स्टाइपेंड बढ़ाने की मांग। मिथिला मखाना को मिला जीआइ टैग