Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Monday, 21 February 2022

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने जन जागरूकता रथों को किया रवाना



 स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने जन जागरूकता रथों को किया रवाना


बिहार के 19 जिलों में चलेंगी 20 दिनों तक जागरूकता रथें, 

सांस्कृतिक दल 140 जगहों पर करेंगे कार्यक्रम


पटना, 21 फरवरी, 2022


कोविड 19 टीकाकरण, मिशन इंद्रधनुष 4.0, आत्मनिर्भर भारत एवं केंद्र सरकार की अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में बिहार के 19 जिलों में आमजन को जागरूक करने के उद्देश्य से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार के पटना स्थित रीजनल आउटरीच ब्यूरो द्वारा जन जागरूकता रथों के शुभारंभ एवं प्रस्थान कार्यक्रम का आयोजन किया गया। बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने अपने आवास से सात  जन जागरूकता रथों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।


स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मंत्रालय द्वारा जन जागरूकता के उद्देश्य से रथों का चलाया जाना सराहनीय कदम हैं। यह इस मामले में सराहनीय है क्योंकि जहां एक ओर 20 दिनों में राज्य के 19 जिलों में जन जागरूकता रथें चलेंगी वहीं दूसरी ओर मंत्रालय के पंजीकृत दल सूबे के 140 स्थानों पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से जन जागरूकता का कार्य करेंगे। ये कार्य मूल रूप से वहां किए जाएंगे जहां टीकाकरण कम हुए हैं। उन्होंने कहा कि पहले किसी बीमारी से निजात पाने के लिए जिसमें टीके की जरूरत पड़ती थी, तब हमे दूसरे देशों पर निर्भर होना पड़ता था लेकिन आज हमारे स्वास्थ सेवा क्षेत्र के वैज्ञानिकों ने महामारी आने के एक साल के अंदर देश का स्वनिर्मित टीका उपलब्ध कराया और प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा कर दिखाया। उन्होंने कहा कि बिहार में 5.95 करोड़ जनसंख्या जो 18 साल से ऊपर है, का टीकाकरण पूर्ण हो चुका हैं और दूसरा डोज भी लगभग 90% पूरा हो चुका है।


कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पीआईबी एवं आरओबी, पटना के अपर महानिदेशक एस.के. मालवीय ने कहा कि भले ही कोविड मरीजों की संख्या में कमी देखने को मिल रही हो लेकिन हमलोगों को आगे भी कोविड 19 अनुरूप नियमों को लगातार पालन करते रहने की आवश्यकता है। इसी उद्देश्यों के साथ विभाग द्वारा आगे 12 मार्च तक सूबे के 19 जिलों के गांवों, टोलों, कस्बों में जागरूकता रथों द्वारा जन जागरूकता का कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन जिलों में मंत्रालय के पंजीकृत दलों द्वारा 140 स्थानों पर नुक्कड़ नाटक, गीत संगीत के माध्यम से लोगों को कोविड-19 टीकाकरण, मिशन इंद्रधनुष 4.0 सहित केंद्र की अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में 19 जिलों सारण, वैशाली, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, सहरसा, अररिया, दरभंगा, किशनगंज, कटिहार, भागलपुर, खगड़िया, जमुई, मुंगेर, गया, नवादा, औरंगाबाद, पटना, जहानाबाद और नालंदा में जागरूकता रथ और सांस्कृतिक दलों के कार्यक्रम होंगे और लोगों को जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि लोगों तक जन जागरूकता के संदेशों को आमजनों तक पहुंचाने में मीडिया की अहम भूमिका होती है।


कार्यक्रम स्थल पर पंजीकृत सांस्कृतिक दल सुरांगन के कलाकारों द्वारा कोविड-19 पर थीम गीत और सुबोध सोनपुरी के कलाकारों ने लोकनृत्य की प्रस्तुति की। कार्यक्रम का संचालन आरओबी, पटना के सहायक निदेशक एन एन झा ने किया।


मौके पर पीआईबी, पटना के निदेशक दिनेश कुमार, सहायक निदेशक संजय कुमार, आकाशवाणी एवं दूरदर्शन की संयुक्त निदेशक श्वेता सिंह, दूरदर्शन के सहायक निदेशक अजय कुमार, आरओबी के कार्यालय प्रमुख मनीष कुमार, कार्यक्रम प्रमुख पवन कुमार सिन्हा, एफपीए नवल किशोर झा, अमरेंद्र मोहन सहित मंत्रालय के पटना स्थित विभिन्न मीडिया ईकाइयों के अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम