Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, 31 March 2022

लदनियां के मजदूर का बेटा बना बिहार का सेकंड टॉपर, बधाई देने वालों का लगा तांता मधुबनी जिले के लदनियां प्रखंड के न्यू अपग्रेड हाई स्कूल सिधप परसाही में पढ़नेवाले विवेक कुमार ठाकुर ने बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा में दूसरा स्थान प्राप्त कर जिले का नाम रोशन किया है। उसकी इस सफलता से न सिर्फ उनके माता-पिता, परिजन व समाज बल्कि उनके गुरुजन व स्कूल परिवार गौरवान्वित है। परीक्षा फल प्रकाशित होते ही उसके वनटोल स्थित घर पर बधाई देने के लिए लोगों की भीड़ लगनी शुरू हो गई। लोग उसके परिश्रम और परिवार के त्याग की सराहना करते दिखे। लोगों ने उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है। विवेक कुमार ठाकुर ने 486 अंक लाकर बिहार में दूसरा तथा मधुबनी जिले में पहला स्थान प्राप्त किया है। उसने अपनी सफलता का श्रेय सतत स्वाध्याय, गुरुजन के आशीर्वाद, परिजनों के सहयोग व मां शारदे कोचिंग सेन्टर के शिक्षक प्रमोद कुमार सिंह, अशोक कुमार पूर्वे व ब्रह्मदेव सिंह को दिया है। उनकी इच्छा आगे की पढ़ाई जारी रखते हुए आईएएस बनने की है। वह अपने मातापिता की चौथी संतान है। बड़ा भाई मजदूर पिता का सहयोगी बन बाहर ही रहता है। दो बहन भी इससे बड़ी है, जो मां के साथ छोटी गृहस्थी संभालती है। विदित हो कि 2014 में इस मध्यविद्यालय को हाई स्कूल में उत्कमित किया गया था। तब से छात्र इसमें नामांकित होकर अच्छे अंकों में पास करते रहे हैं। लेकिन अभी तक सरकार ने शिक्षकों की बहाली नहीं की है। शिक्षकविहीन इस स्कूल के छात्र अगल-बगल के कोचिंग व स्वाध्याय की बदौलत अपनी पढ़ाई कर गांव, प्रखंड व जिले का नाम रोशन करते रहे हैं। वर्ष 2019 में इस स्कूल के छात्र रामकुमार सिंह को बोर्ड में नौवां व रामकुमार पासवान को जिले में दूसरा स्थान मिला था। वर्ष 2021 में निरंजन कुमार सिंह को बिहार में पांचवां स्थान मिला था। लोगों ने इस बच्चे के साथ उक्त कोचिंग सेन्टर के शिक्षकों को भी बधाई दी है। स्कूल की एचएम सुदामा देवी ने कहा कि विभाग से शिक्षकों की मांग की जाती रही है।

 लदनियां के मजदूर का बेटा बना बिहार का सेकंड टॉपर, बधाई देने वालों का लगा तांता




मधुबनी जिले के लदनियां प्रखंड के न्यू अपग्रेड हाई स्कूल सिधप परसाही में पढ़नेवाले विवेक कुमार ठाकुर ने बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा में दूसरा स्थान प्राप्त कर जिले का नाम रोशन किया है। उसकी इस सफलता से न सिर्फ उनके माता-पिता, परिजन व समाज बल्कि उनके गुरुजन व स्कूल परिवार गौरवान्वित है। परीक्षा फल प्रकाशित होते ही उसके वनटोल स्थित घर पर बधाई देने के लिए लोगों की भीड़ लगनी शुरू हो गई। लोग उसके परिश्रम और परिवार के त्याग की सराहना करते दिखे। लोगों ने उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है। विवेक कुमार ठाकुर ने 486 अंक लाकर बिहार में दूसरा तथा मधुबनी जिले में पहला स्थान प्राप्त किया है। उसने अपनी सफलता का श्रेय सतत स्वाध्याय, गुरुजन के आशीर्वाद, परिजनों के सहयोग व मां शारदे कोचिंग सेन्टर के शिक्षक प्रमोद कुमार सिंह, अशोक कुमार पूर्वे व ब्रह्मदेव सिंह को दिया है। उनकी इच्छा आगे की पढ़ाई जारी रखते हुए आईएएस बनने की है। वह अपने मातापिता की चौथी संतान है। बड़ा भाई मजदूर पिता का सहयोगी बन बाहर ही रहता है। दो बहन भी इससे बड़ी है, जो मां के साथ छोटी गृहस्थी संभालती है।

विदित हो कि 2014 में इस मध्यविद्यालय को हाई स्कूल में उत्कमित किया गया था। तब से छात्र इसमें नामांकित होकर अच्छे अंकों में पास करते रहे हैं। लेकिन अभी तक सरकार ने शिक्षकों की बहाली नहीं की है। शिक्षकविहीन इस स्कूल के छात्र अगल-बगल के कोचिंग व स्वाध्याय की बदौलत अपनी पढ़ाई कर गांव, प्रखंड व जिले का नाम रोशन करते रहे हैं। वर्ष 2019 में  इस स्कूल के छात्र रामकुमार सिंह को बोर्ड में नौवां व रामकुमार पासवान को जिले में दूसरा स्थान मिला था। वर्ष 2021 में निरंजन कुमार सिंह को बिहार में पांचवां स्थान मिला था। लोगों ने इस बच्चे के साथ उक्त कोचिंग सेन्टर के शिक्षकों को भी बधाई दी है। स्कूल की एचएम सुदामा देवी ने कहा कि विभाग से शिक्षकों की मांग की जाती रही है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम