Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Tuesday, 5 April 2022

भारत में 22 यूट्यूब चैनल ब्लॉक : सूचना प्रसारण मंत्रालय की बड़ी कार्रवाई

 भारत में 22 यूट्यूब चैनल ब्लॉक : सूचना प्रसारण मंत्रालय की बड़ी कार्रवाई




न्यूज़ डेस्क : मधुबनी


सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था से संबंधित दुष्प्रचार फैलाने वाले 22 यूट्यूब चैनलों को ब्लॉक किया


आईटी नियम, 2021 के तहत पहली बार 18 भारतीय यूट्यूब समाचार चैनल ब्लॉक किए गए


4 पाकिस्तान स्थित यूट्यूब समाचार चैनल ब्लॉक किए गए


यूट्यूब चैनल दर्शकों को गुमराह करने के लिए टीवी समाचार चैनलों के लोगो और फर्जी थंबनेल का इस्तेमाल करते थे


3 ट्विटर अकाउंट, 1 फेसबुक अकाउंट और 1 न्यूज वेबसाइट को भी ब्लॉक किया गया



सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने आईटी नियमावली, 2021 के तहत आपातकालीन शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए 04 अप्रैल 2022 को बाईस (22) यूट्यूब आधारित समाचार चैनलों, तीन (3) ट्विटर अकाउंट, एक (1) फेसबुक अकाउंट और एक (1) न्यूज वेबसाइट को ब्लॉक करने के आदेश जारी किए हैं। ब्लॉक किए गए यूट्यूब चैनलों के दर्शकों की कुल संख्या 260 करोड़ से अधिक थी, और राष्ट्रीय सुरक्षा, भारत के विदेशी संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था के दृष्टिकोण से संवेदनशील विषयों पर फर्जी समाचार, और सोशल मीडिया पर सुनियोजित दुष्प्रचार फैलाने के लिए उनका दुरुपयोग किया जा रहा था।


 


भारतीय यूट्यूब आधारित समाचार चैनलों पर कार्रवाई


पिछले साल फरवरी में आईटी नियम, 2021 की अधिसूचना के बाद से भारतीय यूट्यूब आधारित समाचार प्रकाशकों पर यह पहली बार कार्रवाई की गई है। ब्लॉक किए जाने के आदेश के अनुसरण में, अठारह (18) भारतीय और चार (4) पाकिस्तान स्थित यूट्यूब समाचार चैनलों को ब्लॉक कर दिया गया है।


 


सामग्री का विश्लेषण


भारतीय सशस्त्र बलों, जम्मू-कश्मीर, आदि जैसे विभिन्न विषयों पर फर्जी समाचार पोस्ट करने के लिए कई यूट्यूब चैनलों का उपयोग किया जा रहा था। जिन विषय-सामग्री को ब्लॉक करने का आदेश दिया गया है उनमें कुछ भारत विरोधी विषय-सामग्री भी शामिल थी, जो एक सुनियोजित तरीके से पाकिस्तान से संचालित कई सोशल मीडिया अकाउंट से पोस्ट की गई थी।


 


यह देखा गया कि इन भारतीय यूट्यूब आधारित चैनलों द्वारा यूक्रेन की मौजूदा स्थिति से संबंधित और अन्य देशों के साथ भारत के विदेशी संबंधों को खराब करने के इरादे से अत्यधिक मात्रा में फर्जी विषय-सामग्री प्रकाशित की जा रही थी।


 


काम करने का ढंग


ब्लॉक किए गए भारतीय यूट्यूब चैनल कुछ टीवी समाचार चैनलों के टेम्प्लेट और लोगो का उपयोग कर रहे थे, जिसमें उनके समाचार एंकरों की तस्वीरें भी शामिल थीं, ताकि दर्शकों को यह विश्वास दिलाया जा सके कि समाचार प्रामाणिक था। सोशल मीडिया पर सामग्री को वायरल करने के लिए झूठे थंबनेल का इस्तेमाल किया गया और वीडियो के शीर्षक एवं थंबनेल को  अक्सर बदल दिया जाता था। कुछ मामलों में, यह भी पाया गया कि सुनियोजित तरीके से भारत विरोधी फर्जी खबरें पाकिस्तान से आ रही थीं।


 


इस कार्रवाई के साथ दिसंबर 2021 से, मंत्रालय ने राष्ट्रीय सुरक्षा, भारत की संप्रभुता और अखंडता, सार्वजनिक व्यवस्था आदि से संबंधित आधार पर 78 यूट्यूब आधारित समाचार चैनलों और कई अन्य सोशल मीडिया अकाउंट को अवरुद्ध करने के निर्देश जारी किए हैं।


 


भारत सरकार एक प्रामाणिक, भरोसेमंद और सुरक्षित ऑनलाइन समाचार मीडिया का वातावरण सुनिश्चित करने के साथ-साथ भारत की संप्रभुता और अखंडता, राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था को कमजोर करने के किसी भी प्रयास को विफल करने के लिए प्रतिबद्ध है ।

ब्लॉक किए गए सोशल मीडिया अकाउंट और वेबसाइट का विवरण


यूट्यूब चैनल


क्रमांक      


यूट्यूब चैनल नाम


मीडिया से संबंधित आंकड़े


                              भारतीय यूट्यूब चैनल


1.


एआरपी न्यूज


सब्सक्राइबर:


कुल दर्शक : 4,40,68,652


2.


एओपी न्यूज


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 74,04,673


3.


एलडीसी न्यूज:


 


सब्सक्राइबर: 4,72,000


कुल दर्शक : 6,46,96,730


4.


सरकारी बाबू


सब्सक्राइबर : 2,44,000


कुल दर्शक : 4,40,14,435


5.


एसएस जोन हिंदी


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 5,28,17,274


6.


स्मार्ट न्यूज


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 13,07,34,161


7.


न्यूज23हिंदी


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 18,72,35,234


8.


ऑनलाइन खबर


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 4,16,00,442


9.


डीपी न्यूज


 


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 11,99,224


10.


पीकेबी न्यूज


 


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 2,97,71,721


11.


किसानतक


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 36,54,327


12.


बोराना न्यूज


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 2,46,53,931


13.


सरकारी न्यूज अपडेट


सब्सक्राइबर : अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 2,05,05,161


14.


भारत मौसम


सब्सक्राइबर : 2,95,000


कुल दर्शक : 7,04,14,480


15.


आरजे जोन 6


सब्सक्राइबर : अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 12,44,07,625


16.


एग्जाम रिपोर्ट


सब्सक्राइबर : अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 3,43,72,553


17.


डिजी गुरुकुल


सब्सक्राइबर : अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 10,95,22,595


18.


दिनभरकीखबरें


सब्सक्राइबर: अनुपलब्ध


कुल दर्शक : 23,69,305


                               पाकिस्तान स्थित यूट्यूब चैनल


19.


दुनिया मेरे आगे


सब्सक्राइबर: 4,28,000


कुल दर्शक : 11,29,96,047


20.


गुलाम नबी मदनी


कुल दर्शक : 37,90,109


 


21.


हकीकत टीवी


सब्सक्राइबर: 40,000


कुल दर्शक : 1,46,84,10,797


22.


हकीकत टीवी2.0


सदस्य: 3,03,000


कुल दर्शक : 37,542,059


 


                                     वेबसाइट


क्रमांक


                             वेबसाइट


1.


                          दुनिया मेरे आगे


   

                             ट्विटर अकाउंट (सभी पाकिस्तान स्थित)


क्रमांक


ट्विटर अकाउंट


फॉलोअर की सं.


1.


गुलाम नबी मदनी


5,553


2.


दुनिया मेरे आगे


4,063


3.


हकीकत टीवी


323,800


                                    फेसबुक अकाउंट


क्रमांक


फेसबुक अकाउंट


फॉलोअर्स की सं.


1.


दुनिया मेरे आगे


2,416

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम