Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Wednesday, 11 May 2022

फाइलेरिया उन्मूलन का संदेश पहुंचायेगा जागरूकता रथ

 फाइलेरिया उन्मूलन का संदेश पहुंचायेगा जागरूकता रथ



•लेप्रा सोसाइटी  के सहयोग से संचालित किया गया है रथ

• सिविल सर्जन ने झंडी दिखाकर रथ को किया रवाना 

ऑडियो के माध्यम से लोगों में फैलायी जायेगी जागरूकता 


समस्तीपुर ,11 मई। 

जिले मे फाइलेरिया उन्मूलन के लिए स्वास्थ्य विभाग लगातार प्रयास कर रहा है इसी कड़ी में बुधवार को लेप्रा सोसाइटी  के सहयोग से संचालित जागरूकता रथ को सिविल सर्जन डॉ एस के चौधरी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। रथ जिले के आठ प्रखंड के 8 गांव में घूम-घूम कर फाइलेरिया उन्मूलन के प्रति लोगों को जागरूक करेगा। रथ का संचालन 14मई तक किया जाएगा। सिविल सर्जन डॉ एसके चौधरी ने बताया फाइलेरिया उन्मूलन को गति देने की मुहिम तेज कर दी गयी है। इसको लेकर सम्बंधित कर्मियों को एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया था। इस दौरान फाइलेरिया संक्रमण की स्थिति की पहचान के लिए नाइट ब्लड सर्वे यानी रात्रि रक्त सर्वेक्षण पर टेकनीशियन को विस्तार से जानकारी दी गयी। सिविल सर्जन डॉ  चौधरी ने बताया जिले के 8 प्रखंड के 8 गांव में (प्रत्येक गांव) में 500 लोगों का नाइट ब्लड सर्वे का आयोजन किया जाना है। सर्वे सम्बंधित प्रखंड में 11 से 14  मई तक होगा। जिसमें कल्याणपुर प्रखंड के ध्रुवगामा, पूसा के गंगापुर, मोरवा के महमदपुर,समस्तीपुर के बारह पत्थर,दलसिंहसराय के नगरगामा, पटोरी के सिरदिलपुर,सरायरंजन के सरायरंजन, ताजपुर के आधारपुर शामिल हैं। 


क्या है फाइलेरिया:

लेप्रा के प्रोग्राम मेनेजर अमर सिंह  ने बताया कि फाइलेरिया का संक्रमण मादा कुएलेक्स मच्छर के काटने से फैलता है। सामान्यत: यह संक्रमण शुरुआती बचपन में ही हो जरूरी नहीं। यह बीमारी कई वर्षों बाद प्रकट होती है। इस प्रकार, सामान्य एवं स्वस्थ्य दिखनेवाले व्यक्ति को कुछ सालों बाद पैरों , हाथों एवं शरीर के अन्य भाग में अत्यधिक सूजन उत्पन्न होने लगती है।


- फाइलेरिया का शरीर पर प्रभाव एवं लक्षण;

अमर सिंह  ने बताया कि इसका प्रभाव स्वस्थ्य त्वचा पर होता है । इसके कारण प्रभावित अंगों में दर्द, लालपन एवं रोगी को बुखार हो जाता है। हाथ-पैर, अंडकोष व शरीर के अन्य अंगों में सूजन के लक्षण होते हैं। प्रारंभ में या सूजन अस्थायी हो सकता  किन्तु बाद में स्थायी और लाइलाज हो जाता है। वहीं गंभीर रूप से पीड़ित फाइलेरिया मरीजों को एमएमडीपी किट नि:शुल्क उपलब्ध करायी जाती है। मौके पर केयर इंडिया के डीपीओ वी एल प्रभाकर मिश्रा ,वी भी डी सी संतोष कुमार ,भीबी डी सी ओ जीतेन्द्र कुमार ,लेप्रा के  स्टेट कोऑर्डिनेटर रजनीकांत सिंह, एम आई एस मैनेजर आकाश कुमार ,केयर इंडिया के कालाजार ब्लॉक कोऑर्डिनेटर इन्द्रमणि प्रसाद उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम