Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Friday, 17 June 2022

विधि-व्यवस्था संधारण प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता

 न्यूज़ डेस्क : मधुबनी


जिलाधिकारी  अरविन्द कुमार वर्मा ने कहा है कि अग्निपथ भर्ती योजना के विरोध में हिंसक प्रदर्शन करने वालों से कानून के अनुसार सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा है कि *विधि-व्यवस्था संधारण प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है।* इसमें व्यवधान उत्पन्न करने वालों के विरुद्ध विधिसम्मत कठोर कार्रवाई की जाएगी। 


डीएम  ने कहा है कि विधि-व्यवस्था संधारण को लेकर प्रशासन पूरी तरह से गंभीर है। वरीय पदाधिकारियों के नेतृत्व में दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को प्रतिनियुक्त किया गया है। प्रशासन का आसूचना संग्रह तंत्र पूर्णतः  सक्रिय है‌। उपद्रवियों पर सरकार की पैनी नजर है। गड़बड़ी करने वालों को बख्सा नहीं जाएगा।



डीएम ने कहा कि वीडियो फुटेज के आधार पर उपद्रवियों को चिन्हित कर करवाई की जाएगी। 

डीएम ने कहा कि विधि-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न करने मे संलिप्त लोगो की भूमिका की भी जांच की जा रही है। यदि उनकी संलिप्तता प्रमाणित होगी तो दोषियों के विरुद्ध विधि-सम्मत कठोर कार्रवाई की जाएगी।


डीएम  ने अपील किया है कि पूर्णतः *प्रजातांत्रिक* तरीके से *शांतिपूर्ण* *ढंग से विरोध* *प्रदर्शन करें एवं कानून का पालन* *करें। उन्होंने कहा कि युवा देश के भविष्य, देश के विकास में उनकी ऊर्जा की  जरूरत है।  ।*।* । 


विदित हो कि जिलाधिकारी अरविन्द कुमार वर्मा एवं  पुलिस अधीक्षक  सुशील कुमार के नेतृत्व में  संपूर्ण प्रशासनिक तंत्र विधि-व्यवस्था संधारण हेतु पूर्णतः मुस्तैद है। अधिकारीद्वय ने कहा कि शांति-व्यवस्था स्थापित करने के लिए सभी प्रकार की प्रशानिक कार्रवाई की जा रही है। उन्होंनेकहा की *जिला साइबर सेल को सक्रिय कर दिया गया है सोशल मीडिया पर 24 घण्टे नजर रखी जा रही है।


No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot
आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 75 डिजिटल बैंकिंग यूनिट्स (Digital Banking Units -DBUs) को लांच किया। उद्योग मंत्री समीर महासेठ ने किया ऐलान, कहा- बिहार में लगेंगे 20 हजार नये कारोबार, सरकार करेगी मदद। कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' में बड़ा हादसा, 4 कार्यकर्ताओं को लगा करंट, अस्पताल में भर्ती।