Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Monday, 19 September 2022

माँ अन्नपूर्णा रक्तरक्षक द्वारा रक्तदान शिविर आयोजित

 न्यूज़ डेस्क : मधुबनी


मधुबनी जिले के जयनगर के सूड़ी विवाह भवन परिसर में माँ अन्नपूर्णा रक्त रक्षक के तत्वावधान में रक्तदान शिविर समारोह का आयोजन किया गया।


सर्वप्रथम वैदिक विधि-विधान से मंत्रोच्चारण के बीच आगत अतिथियों के द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।


कार्यक्रम में खजौली विधानसभा क्षेत्र के विधायक अरुण शंकर प्रसाद, निवर्तमान मुख्य पार्षद कैलाश पासवान, विश्वम्भर पूर्वे, अरुण जैन, विमल मस्करा, अनिल बैरोलिया, शम्भु गुप्ता एवं अन्य दर्जनों स्थानीय बुद्धिजीवियों की मौजूदगी रही ।


मौके पर संस्था के प्रवीर महासेठ एवं राजेश गुप्ता ने कार्यक्रम का मंच संचालन किया।

आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि मां अन्नपूर्णा कम्युनिटी किचन के द्वारा सामाजिक क्षेत्रों में कई कार्य किए हैं। इस संस्था के द्वारा जो भी कार्य किया जा रहा है, वह सराहनीय प्रयास है। बीते कई सालों से सामाजिक क्षेत्र में कार्य कर लाभ देने का काम किया है। 


इस मौके पर रोहन सिंह, मनीष गुप्ता, संतोष  शर्मा, सुमित कुमार राउत, आकांक्षा महासेठ, अमित कापड़ी, राकेश गुप्ता, अनिल बैरोलिया, मनोज सिंह, शम्भु गुप्ता, राजकुमार साह, विनय सिंह, मो. जमीर समेत कुल 61 रक्तदाताओं ने रक्तदान किया।


मौके पर मुख्य संयोजक अमित कुमार राउत, अध्यक्ष रोहन रंजन सिंह, गणेश कांस्यकार, सुमित राउत, लक्ष्मण यादव, मनीष गुप्ता, अजय सिंह, रामजी गुप्ता,  संतोष शर्मा, विवेक सूरी, मिथिलेश साह, राहुल सूरी समेत अन्य कई सदस्य मौजूद थे।

 इस रक्तदान शिविर का आयोजन दरभंगा के शुक्ला ब्लड बैंक के सहयोग से किया गया। यह कार्यक्रम ब्लड बैंक चीफ मुकेश कुमार सिंह एवं उनकी टीम द्वारा संचालित किया गया। इस रक्तदान शिविर में महिलाओं ने भी खासा उत्साह दिखाते हुए रक्तदान किया एवं कई महिलाओं ने रक्तदान भी किया। इस मौके पर कुल 61 लोगों ने अपना रक्तदान किया।

बता दें कि जो भी लोग रक्तदान किये, उन सभी को प्रशस्ति पत्र एवं मोमेंटो देकर प्रोत्साहित किया गया।


No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot
शाहनवाज हुसैन को सुप्रीम कोर्ट से राहत, FIR दर्ज करने के आदेश पर लग गयी रोक। बिहार में जूनियर डॉक्टर्स हड़ताल पर, स्टाइपेंड बढ़ाने की मांग। मिथिला मखाना को मिला जीआइ टैग