Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Wednesday, 23 February 2022

टीबी उन्मूलन के लिए आज से जिले चलेगा अभियान, महिलाएं बनेंगी संवेदनशील

 टीबी उन्मूलन के लिए आज से जिले चलेगा अभियान, महिलाएं बनेंगी संवेदनशील



• पीएचसी स्तर प्रत्येक मंगलवार को टीबी ट्यूजडे मनाया जायेगा:


• विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से किया जायेगा जागरूक

• टीबी हारेगा, देश जीतेगा कैंपेन के तहत आयोजित होगी गतिविधि

• कार्यशाला और महिला समूह की होगी बैठक


मधुबनी/23 फरवरी

टीबी उन्मूलन को लेकर स्वास्थ्य विभाग संकल्पित है। समुदाय स्तर पर विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है। 24 मार्च को विश्व टीबी दिवस मनाया जाता है। इसी कड़ी में जिले में एक माह तक टीबी के प्रति जागरूकता के लिए अभियान चलाया जायेगा। 24 फरवरी से 24 मार्च तक टीबी हारेगा, देश जीतेगा कैंपेन के तहत विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जायेगा। इस संबंध में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, सेंट्रल टीबी डिविजन के डिप्टी डायरेक्टर जनरल डॉ. राजेंद्र पी जोशी ने पत्र जारी कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया है। सेंट्रल टीबी डिवीजन टीबी हारेगा देश जीतेगा अभियान के तहत एक महीने का अभियान, पूर्ण संकल्प, संयुक्त प्रयास शुरू कर रहा है। अभियान निक्षय दिवस पर शुरू होने वाला है और विश्व टीबी दिवस 24 मार्च तक मनाया जाएगा। सुनिश्चित करें कि इस आयोजन के दौरान टीबी चैंपियन/मंचों का पर्याप्त रूप से उपयोग किया जाता है। टीबी प्रकोष्ठों के सभी अधिकारियों और सलाहकारों को जमीनी स्तर पर और सोशल मीडिया पर आबादी तक पहुंचने के लिए अपने प्रयासों को अधिकतम करना चाहिए।


महिलाओं की सहभागिता होगी सुनिश्चित:

टीबी उन्मूलन अभियान में महिलाओं की सहभागिता को सुनिश्चित करने का विशेष जोर दिया जा रहा है। इस अभियान के तहत महिलाओं के साथ बैठक कर टीबी के प्रति जागरूक किया जायेगा। इसके साथ समुदाय स्तर पर धर्मगुरू के साथ मीटिंग की जायेगी। सामूहिक सहभागिता से टीबी उन्मूलन के सपने को साकार करने का प्रयास किया जायेगा। इस अभियान में जनप्रतिनिधि, धर्मगुरू, सहयोगी संस्थाओं के प्रतिनिधि का सहयोगी लिया जायेगा। टीबी के प्रति महिलाओं को संवेदनशील बनाने के लिए विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जायेगा। एक्टिव मरीज खोज अभियान के तहत महिलाओं पर विशेष फोकस किया जायेगा।


स्कूलों में टीबी पर प्रतियोगिता का होगा आयोजन:


टीबी के प्रति जागरूकता के उद्देश्य से जिले के स्कूलों में छात्र-छात्राओं के साथ विभिन्न गतिविधियों का संचालन किया जायेगा। पत्र के माध्यम से निर्देश दिया गया है कि निबंध प्रतियोगिता, पेंटिंग, स्लोगन लेखन जैसे गतिविधियां आयोजित की जाये। इसके साथ वाल पेंटिंग के माध्यम से टीबी से बचाव का संदेश दिया जायेगा। टीबी प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को सम्मानित भी किया जायेगा।


मंगलवार को # टीबी ट्यूजडे

मनाया जायेगा:


जिले में प्रत्येक सप्ताह मंगलवार को पीएचसी स्तर पर #टीबी ट्यूजडे मनाया जायेगा। इस हैसटैग के माध्यम से सोशल मीडिया पर टीबी के प्रति आमजनों को जागरूक करने का प्रयास किया जायेगा। जिले के प्रत्येक एक-एक गांव में यह गतिविधि आयोजित की जायेगी। इस पूरे अभियान को सफल बनाने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया जायेगा। टीबी मुक्त भारत का संकल्प भी दिलाया जायेगा। इसके साथ हीं हस्ताक्षर अभियान भी चलाया जायेगा।


विभिन्न कार्यक्रमों में टीबी के प्रति किया जायेगा जागरूक

पूरे माह अभियान के दौरान विभिन्न कार्यक्रमों में टीबी पर विशेष फोकस करने का निर्देश दिया गया है। टीबी हारेगा, देश जीतेगा कैंपेन का लोगो का उपयोग किया जायेगा। इसके साथ टीबी चैंपियन की कहानी और चित्र प्रदर्शित की जायेगी। अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया जायेगा।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages

फ्लोर टेस्ट के आदेश को शिवसेना ने SC में दी चुनौती, तत्काल रोक की मांग महाराष्ट्र सियासी संकट : फडनवीस ने राज्यपाल से की फ्लोर टेस्ट की मांग, एकनाथ शिंदे ने सोमवार की देर रात बुलाई आपात बैठक, उदयपुर : हत्यारोपियों के साथ कन्हैयालाल का समझौता कराने वाला पुलिसकर्मी सस्पेंड जमानत पर रिहा लालू प्रसाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, चारा घोटाले के इस मामले में सजा बढ़ाने की हुई मांग, सीबीआई ने कहा - कम मिली है सजा | बिहार- निकाय चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारी, मतदाता सूची के प्रकाशन को लेकर जारी किया कार्यक्रम